भारत के मुकाबले दुनिया की 10 सबसे महंगी मुद्राएं

दुनिया की 10 सबसे महंगी मुद्राएं World’s Top 10 Highest Valued Currency

किसी भी देश की मुद्रा की कीमत कई बातों पर निर्भर करती है। इनमें सबसे ऊपर देश की आर्थिक व राजनीतिक स्थिति होती है, जो देश राजनीतिक व आर्थिक रूप से मजबूत होगा तो वहां की मुद्रा का मूल्य भी अधिक मिलेगा क्योंकि वहां पर विदेशी कारोबार को बढ़ावा मिलेगा। आज विश्व भर में अधिकतम व्यापार यूएस डॉलर और यूरोपियन यूरो में होता है। यह विश्व की सबसे अधिक संरक्षित मुद्राएं हैं।

आज के समय में हम यूएस डॉलर का प्रयोग विश्व में किसी भी देश में कर सकते हैं। मांग व पूर्ति के सिद्धांत के अनुसार किसी भी वस्तु की मांग जितनी अधिक होती है, उसके मूल्य में भी उतनी ही वृद्धि होती हैं।

विश्व के कुछ ऐसे देश हैं, जिनकी मुद्रा का मूल्य यूएस डॉलर से भी अधिक है। सेबोरगन लिगीनों Seborgan Luigino प्रिंसिपैलिटी ऑफ सेबोरगा देश की मुद्रा है। यह देश उत्तर पश्चिमी इटली में स्थित है। यह एक छोटा देश है, जो कि 14 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। यहां की  मुद्रा इस देश के बाहर मान्य नहीं है, क्योंकि इस करेंसी को अंतरराष्ट्रीय मान्यता नहीं मिली हुई। इस देश के स्थानीय मानकों के अनुसार इसका 1 सेबोरगन लिगीनों  $6 के बराबर है। जो कि इसे विश्व की सबसे अधिक शक्तिशाली करेंसी बनाता है। परंतु इस देश के बाहर इस करेंसी को मान्यता नहीं है। इसलिए इसे हमने अपनी सूची में शामिल नहीं किया है।

इस लेख में हम विश्व की 10 सबसे महंगी मुद्राएं की चर्चा करेंगे, तथा भारतीय मुद्रा INR के मुकाबले  आज के आंकड़ों के अनुसार इसके मूल्य की जांच करेंगे।

1. कुवैत दिनार Kuwait Dinar

1 KWD = 243.485 INR

कुवैत एक पेट्रोलियम आधारित अर्थव्यवस्था वाला छोटा देश है। इस देश के पास बहुत अधिक संपत्ति है। यह एक तेल निर्यातक देश है, तथा सबसे विकसित देश है। इसे दुनिया का सबसे अमीर देश माना जाता है। यहां के राजस्व का 80% भाग तेल उत्पादों से आता है। यह देश कर मुक्त अर्थव्यवस्था वाला है, तथा यहां पर बेरोजगारी ना के बराबर है।

2. बहरीन दिनार Bahraini Dinar

1 BHD = 197.347 INR

यह देश पर्शियन गोंल्फ आयरलैंड में स्थित एक इस्लामिक देश है। बहरीन दिनार विश्व की दूसरी सबसे शक्तिशाली मुद्रा है। यह देश लगभग 1.5 लाख जनसंख्या वाला देश है। जो 780 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है। यहां की इनकम का प्रमुख साधन पेट्रोल निर्यात है। जिसे काला सोना भी कहते हैं। 2005 से बहरीन दिनार का मूल्य यूएस डॉलर के मुकाबले स्थिर बना हुआ है, जो कि एक अच्छा संकेत है।

3. ओमानी रियाल Omani Rial

1 OMR = 193.259 INR

ओमान देश अरब प्रायद्वीप के दक्षिण पूर्वी तट पर स्थित है। यहां पर बहुत ही उच्च दर्जे की जीवन शैली है, तथा यह बहुत अमीर देश है। यहां की मुद्रा इतनी शक्तिशाली है, की सरकार को एक चौथाई रियाल और आधा रियाल के नोट भी जारी करने पड़े हैं।

4. जॉर्डन दिनार Jordanian Dinar 

1 JOD = 104.945 INR

जॉर्डन एक अरब देश है, जो जॉर्डन नदी के पूर्वी किनारे पर स्थित है। यह देश आर्थिक रूप से अधिक सशक्त नहीं है। यहां तेल आदि संसाधन भी बहुत कम है। फिर भी यहां की मुद्रा की कीमत अमेरिकी डॉलर के मुकाबले अधिक है।

5. ब्रिटिश पाउंड स्टर्लिंग British Pound Sterling

1 GBP = 95.934 INR

पाउंड स्टर्लिंग यूनाइटेड किंगडम की मुद्रा है। यह देश उत्तर पूर्वी यूरोपीय देश है। ब्रिटिश देश स्वयं के बैंक नोट जारी करते हैं। जो कि बैंक ऑफ इंग्लैंड द्वारा जारी किए गए नोटों से थोड़ा भिन्न होते हैं। परंतु इनकी कीमत बराबर होती है। ब्रिटेन की मुद्रा विश्व की पांचवी सबसे सशक्त मुद्रा है।

6. सेमन आईलैंड डॉलर Cayman Islands Dollar

1 KYD = 90.7691 INR

सेमन द्वीप पश्चिमी कैरेबियन समुंदर में स्थित तीन द्वीप हैं। यह बहुत ही संपन्न है, इनकी मुद्रा का मूल्य अमेरिकी डॉलर से लगभग 1.22 गुणा है।

7. यूरोपियन यूरो European Euro

1 EVR = 86.7893 INR

यूरोपियन यूनियन के 27 में से 19 देशों की करेंसी यूरो है। यह यूएस डॉलर के बाद विश्व की दूसरी सबसे शक्तिशाली वैश्विक व्यापार में प्रयोग होने वाली मुद्रा है। यह विश्व की दूसरी सबसे अधिक आरक्षित मुद्रा है, पिछले कुछ वर्षों के दौरान यह मुद्रा काफी मजबूत हुई है।

8. स्विस फ्रैंक Swiss Franc

1 CHF = 81.2249 INR

स्विट्जरलैंड देश मध्य यूरोप में स्थित है। यह आल्पस पर्वत की चोटियों व झीलों वाला देश है। यह विश्व के सबसे संपन्न देशों में से एक है। यहां के बैंक अपनी C करेंसी के लिए बहुत प्रसिद्ध है। यहां का उच्च तकनीकी सामान भी बहुत प्रसिद्ध है।

9. यूएस डॉलर US Dollar

1 USD = 74.44 INR

अमेरिकी डॉलर की कीमत विश्व में नौवें पायदान पर है, परंतु फिर भी अमेरिका वैश्विक अर्थव्यवस्था का नेतृत्व करता है। यूएस डॉलर को विश्व की रिजर्व करेंसी कहते हैं। क्योंकि अमेरिकी डॉलर का उपयोग आप किसी भी देश में कर सकते हैं।  विश्व का अधिकतम व्यापार अमेरिकी डॉलर में किया जाता है।

10. कैनेडियन डॉलर Canadian Dollar

1 CAD = 55.70 INR

कनाडा उत्तरी अमेरिका के उत्तरी भाग में स्थित है। यहां की मुद्रा विश्व की पांचवीं रिजर्व मुद्रा है। जिसका स्थान विश्व की सबसे अधिक महंगी मुद्राएं में दसवां है।

किसी देश की मुद्रा को मजबूत करने के लिए वहां पर अधिक से अधिक विदेशी मुद्रा आनी चाहिए। आयात के बदले निर्यात अधिक होना चाहिए। जिससे कि विदेशी मुद्रा कम चुकानी पड़े और विदेशी मुद्रा अधिक प्राप्त की जा सके। लोगों को अपना पैसा देश में ही इन्वेस्ट करना चाहिए। अगर देश के लोग बाहरी देशों में अपना पैसा लगाएंगे तो यह पैसा उन्हें डॉलर के रूप में चुकाना पड़ेगा, जिससे कि डॉलर की मांग बढ़ेगी और उस देश की  मुद्रा की कीमत गिरेगी।

ऐसे और भी कई देश हैं, जिनके मुद्रा भारत के मुकाबले कमजोर है। लेकिन अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय मुद्रा भी काफी कमजोर है। इसे मजबूत करने के लिए देश को आत्मनिर्भर होना होगा तथा निर्यात को बढ़ावा देना होगा।

धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
Send this to a friend